अब पूरी शिद्दत से मै तुझसे नफरत करुँगी / Ab Puri Shiddat Se Tujhse Nafrat Karungi Poetry Lyrics Hindi - Sayali Waghmare (G Talks)

तो कैसे हैं आप...

पेश है G Talks का बहुत ही प्यारा कविता "Ab Puri Shiddat Se Tujhse Nafrat Karungi" का लिरिक्स | जिसे बड़े ही खुबसूरत अंदाज़ में Sayali Waghmare के द्वारा लिखा और बोला गाया है |

वहीँ दूसरी तरफ इसे सबसे पहले यू-ट्यूब के [G TALKS] चैनल पर लाया और दिखाया गया है |

हमने इस कविता (Poetry) का लिरिक्स नीचे हिंदी में लिखा है | इसके अतिरिक्त इसका लेखन, बोल और अभिनय का संक्षेपित समीक्षा (Short Review) भी दिया गया है | आप इसे पढ़िए और अपने शब्दों में इज़हार करिए |

Ab Puri Shiddat Se Tujhse Nafrat Karungi Sayali Waghmare
Ab Puri Shiddat Se Tujhse Nafrat Karungi Poetry Lyrics Hindi - Sayali Waghmare

यह कविता (Devanagari font) में परिवर्तित है | अर्थात् Ab Puri Shiddat Se Tujhse Nafrat Karungi Poetry Hindi में लिखा गया हैं | इसके साथ-साथ हमने इसका (Image Lyrics) भी शामिल किया है |

Ab Puri Shiddat Se Tujhse Nafrat Karungi Poetry Lyrics in Hindi

दिल चुराया था कभी,
दिल चुराया था कभी
पर आज उसने ही दिल तोड़ा है
दर्द हुआ है हद से ज्यादा
इसलिए मैंने भी मुंह मोड़ा है

पल भर की खुशियाँ देके
आँखों में अब आंसुओं की बरसात लायी है
के वफ़ा की उम्मीदें दिखाकर
उसने बेवफाई की है

खुद को खोया था
तो अब खुद ही को पाउंगी
बस सुनले,
अब पूरी शिद्दत से मै तुझसे नफरत करुँगी

अब ना ही आंसुओं से मुलाकाते होंगी
ना ही रूठने-मनाने की बाते होंगी
अब ना ही किसी का इंतज़ार होगा
वो हद से ज्यादा प्यार होगा

अब ना झूठे वादे होंगे,
ना झूठी क़समें होंगी
खुद से प्यार करुँगी,
गज़ब लिरिक्स डॉट कॉम
सपनों की ओर बढूंगी
कामयाब होने की ख्वाहिश रखूंगी
अब बस अपनों के लिए ही जियूंगी

सुन ले,
मोहब्बत तो तूने मेरी देखी
मोहब्बत तो तूने मेरी देखी
अब पूरी शिद्दत से मै तुझसे नफरत करुँगी

Sayali Waghmare Shayari in Hindi

यूँही नज़रे मिला कर गुफ्तगू करते हो
उनको पहचानते हो क्या
यूँही नज़रे मिला कर गुफ्तगू करते हो
उनको पहचानते हो क्या

आँखों की दरिया में डूबते हो तुम
उनके दिल का पता जानते हो क्या

तू भूल था मेरी
पर अब तुझे भुलाना है
तू भूल था मेरी
पर अब तुझे भुलाना है

तेरी चाहत में रोये थे हम
पर सुन, अब तुझे ही रुलाना है

G Talks Shayari by Sayali Waghmare

सपनो को छूने की ख्वाहिश रखते हैं
सपनो को छूने की ख्वाहिश रखते हैं

खुद के पैरों पे खड़ा होना सीखते हैं
होते हैं कुछ बच्चे
जो अपने मा-बाप से दूर रहकर
माँ-बाप के लिए जीते हैं

Ab Puri Shiddat Se Tujhse Nafrat Karungi lyrics image

Ab Puri Shiddat Se Tujhse Nafrat Karungi poetry sayali waghmare lyrics image

Review of the poetry (or) ghazal

इस कविता को पुरे दिल से सुना रहीं हैं | ऐसा लगता है मानो जैसे ये कहानी उन्ही के साथ बीती है | खैर जो भी हो इस कविता के हर एक वाक्य दिल को छू जाने वाले लग रहे हैं |

आप इसे YouTube पर देख सकते हैं | यदि यह आपको पसंद आये तो अपने दोस्तों को भी बतायें | धन्यवाद् |

Original presentation video of the poetry



एक छोटी सी गुजारिश | क्या आपको "Ab Puri Shiddat Se Tujhse Nafrat Karungi Poetry Lyrics" हिंदी में लिखा हुआ अच्छा लगा | तो कृपया करके शेयर करिए | यह हमे नए ग़ज़ल और कविता लाने में प्रोत्साहन प्रदान करेगा |

इसका पूरा श्रेय (Credit) इसके मूल आधिकारिक मालिक को जाता है | किसी प्रकार के सुझाव/शिकायत के लिए संपर्क करें |